बुरा ना मानो...होली है-5

मेरी किस्मत में तू नहीं शायद

क्यूँ तेरा इंतज़ार करती हूँ

मैँ तुझे कल भी प्यार करती थी

मैँ तुझे अब भी प्यार करती हूँ

 

 

 

mayawati

4 comments:

समयचक्र - महेन्द्र मिश्र said...

रंगों के पर्व होली पर आपको हार्दिक शुभकामना

HEY PRABHU YEH TERA PATH said...

होली कि घणी घणी बधाई यह रन्गो का त्योहार हिन्दी ब्लोग जगत मे प्रेम सोहार्द लाऐ ईसी शुभकामनाओ के साथ

शोभा said...

वाह क्या बात है। होली मुबारक।

राजीव तनेजा said...
This comment has been removed by the author.
 
Copyright © 2009. हँसते रहो All Rights Reserved. | Post RSS | Comments RSS | Design maintain by: Shah Nawaz