चेहरा छुपा दिया है हमने नकाब में-4

परिणाम: चेहरा छुपा दिया है हमने नकाब में-3

दोस्तो....मेरी चित्र पहेली का आप सब ने जैसा स्वागत किया..उसे देख कर मैँ बहुत उत्साहित हूँ और साथ ही आप सभी का तहेदिल से  शुक्रगुज़ार भी हूँ कि आप सबने मेरी इस पहेली को हल करने के लिए थोड़ी-बहुत माथापच्ची अवश्य की...थोड़ी-बहुत इसलिए कि आप में से अधिकांश के जवाब गलत थे...इस बार की पहेली में मैँने दो ब्लॉगरों के चेहरे छुपाए गए थे...जिन्हें आपको पहचानना था...आप में से अधिकांश  के जवाब सही नहीं थे..और जिनके सही जवाब थे..उनके भी आधे-अधूरे ही सही थे...अविनाश जी ने एक चित्र में छिपे ब्लॉगर को पहचान लिया लेकिन दूसरे को पहचानने में वो अटक गए ...इसी तरह अजय झा जी ने भी एक ब्लॉगर को सही पहचान लिया था लेकिन उन्हें शायद थोड़ा संशय था... इसलिए उन्होंने उसकी पुष्टि नहीं की थी.....

खैर!...कोई बात नहीं....पिछली बार नहीं तो इस बार सही...बस यूँ ही मेरा उत्साहवर्धन करते रहें...

अब चलते हैँ...पहेली नम्बर तीन के उत्तर की तरफ...तो पहले जिस सींकिया पहलवान का चित्र आपके सामने था....

pehchaankaun3

वो "हँसते रहो" वाले राजीव तनेजा 19062008816 यानी कि मेरा खुद का था और इसे पहचाना था श्री अविनाश वाचस्पति जी ने...और दूसरा चित्र था

12362

khushdeep

"देशनामा" वाले श्री खुशदीप सहगल जी का जिसे उन्हें खुद उनके अलावा कोई और पहचान नहीं पाया था..

अब चलते हैँ आज की पहेली याने कि पहेली नम्बर 4 की तरफ...

आज आपको नीचे दिए गए पाँच चित्रों में छुपे हुई तीन ब्लॉगरों को खोज निकालना है और सबसे पहले पहेली को हल करने वाले ब्लॉगर को आज मिलने वाला है...

"नौ सौ चूहे खाने के हज पे जाती हुई बिल्ली की मूँछ का टूटा हुआ बाल"

 

bbeheh

vsgbeeg

 

  vdfgx vf

ehehe

 

 125214

 

नोट:मेरी इस पहेली का मकसद सिर्फ और सिर्फ हँसी मज़ाक है..अगर किसी मित्र(जिसका चित्र मैँ यहाँ पहेली के लिए इस्तेमाल कर रहा हूँ) को ये सब बुरा लग रहा है तो मैँ इसके लिए माफी चाहूँगा।अगर उन्हें अपने चित्र के इस्तेमाल से ऐतराज़ है तो वो बस मुझे एक मेल भर कर दें...मैँ क्षमा माँगते हुए उनका चित्र सहर्ष अपने ब्लॉग से हटा दूँगा।

और जो ब्लॉगर मित्र चाहते हैँ कि उनके फोटो का इस पहेली के लिए इस्तेमाल किया जाए तो वो सहर्ष अपना कोई बढिया सा फोटो मेरी मेल आई डी पर भेज सकते हैँ...मेरी मेल आई डी है rajivtaneja2004@gmail.com

 

आपकी प्रतिक्रियाओं के इंतज़ार में...

राजीव तनेजा

17 comments:

अजय कुमार झा said...

एक भाई महफ़ूज़ अली..दूसरे शायद योगेन्द्र मौदगिल जी और तीसरे ..संजय बेंगाणी ...चलिये एक ठो को तो पहचानिये लिये...

Udan Tashtari said...

संजय बैंगाणी को पहचाना.

Udan Tashtari said...

महफूज भाई को पहचाना.

AlbelaKhatri.com said...

आज की पहेली में तीन लोग मुझे तो नज़र आ रहे हैं

१ संजय बेंगाणी
२ बी एस पाबला
३ महफूज़ अली

भाई मुझे तो ऐसा ही लग रहा है बाकी या तो रब जाने या फ़िर राजीव तनेजा,,हा हा हा

AlbelaKhatri.com said...

आज की पहेली में तीन लोग मुझे तो नज़र आ रहे हैं

१ संजय बेंगाणी
२ बी एस पाबला
३ महफूज़ अली

भाई मुझे तो ऐसा ही लग रहा है बाकी या तो रब जाने या फ़िर राजीव तनेजा,,हा हा हा

नवीन प्रकाश said...

बहुत ही अच्छा विचार और कार्य कर रहे है

किसी भी सहयोग की आवश्यकता हो तो मुझे आपके साथ आकार खुशी होगी

http://computerlife2.blogspot.com/

अविनाश वाचस्पति said...

आज हम किसी को नहीं पहचानेंगे
क्‍योंकि हम खुद ही एक फोटो में बैठे हुए हैं
वहां से उठकर आएं तो पहचानें ?

अविनाश वाचस्पति said...

No mercy वाली फोटो में हमें चिपका दिया है
जबकि हमें दया के सिवाय कुछ आता ही नहीं है। इस टिप्‍पणी को रोक लें। इससे पहले वाली को जारी कर दें।

विनोद कुमार पांडेय said...

आज पहेली थोड़ा कठिन सा लग रहा है...हम इंतज़ार करेंगे सही जवाब का....

Anil Pusadkar said...

संजय बेंगानी,सुरेश चिपलुणकर और महफ़ूज़ भाई।आई एम आई राईट।

खुशदीप सहगल said...

राजीव भाई जी,

शुक्र है रात को छापते हो ये सब गड़बड़ घोटाला...पत्नीश्री की नज़र नहीं पड़ती...नहीं तो आपके वाले बेलन यहां चल रहे होते...और आपको हंसी की आवाज़ें मेरे घर के नीचे से आ रही होतीं...रही बात आज तो मुझे पहले तीन चित्रों में अजय कुमार झा, समीर लाल जी समीर और दीपक मशाल नज़र आ रहे हैं....वैसे ये जो सुंदर सुंदर इनाम रखते हो, क्या सॉदबी या क्रिस्टी नीलामी घरों से लेकर आते हो ...जो भी हो लगे रहो तनेजा भाई....बढ़िया है....

जय हिंद....

Murari Pareek said...

avinash ji ko dher saari badhaai!!!

Murari Pareek said...

pahlaa chehraa sanjay benagaani ji ka hai !!!

Murari Pareek said...

कोई हिंट विंट तो होनी चाहिए आप तो चेहरे इतने बुरी तरह बिगाड़ देते हैं की सिवाय आँखों के और कुछ भी ओरिजनल नहीं रह जता !! जिसको मूंछ ना हो उसके मूंछ उगा देते है, गंजे को बाल लगा देते हैं बाल वाले को गंजा कर देते हैं अजीब सर्जरी करते है राजीव जी !!! आपको तो डाक्टर जगत में होना चाहिए था | हा..हा..

गिरीश बिल्लोरे 'मुकुल' said...

Wah
agar meree zarorat ho to char din pahale bata deejie ji

गिरीश बिल्लोरे 'मुकुल' said...

नाराज़ हूं आपसे इस नाज़ुक अदा को मेरे साथ रख देते
जल भुन गया किसी की बाहों में उसे देख कर
हा हा हा

महफूज़ अली said...

waise maine to khud ko pehchaan liya hai..... lekin phir bhi doubtful hoon..... qki meri shakl kaafi had tak Dipak Mashal se milti hai..... isliye yeh Dipak bhi ho sakte hain....

 
Copyright © 2009. हँसते रहो All Rights Reserved. | Post RSS | Comments RSS | Design maintain by: Shah Nawaz