मिलिए ब्लॉगवुड की अबोध बच्चियों से -होली हंगामा स्पेशल

holi hai

holi hai (1)

tergretg

holi hai (2)

holi hai (3)

 holi hai (4)

 holi hai (5)

 holi hai (6)

 holi hai (7)

 holi hai (8)

 holi hai (11)

holi hai (9)

 holi hai (10)

 

 holi hai (12)

 holi hai (13)

 holi hai (14)

 holi hai (15)

26 comments:

गिरीश बिल्लोरे मुकुल अब पॉडकास्टर said...

किसी की गोद में बिठा देते हा हा हा हा

HARI SHARMA said...

बहुत बढिया
होली की राम राम

गिरीश बिल्लोरे मुकुल अब पॉडकास्टर said...

किसी की गोद में बिठा देते हा हा हा हा
इन सबको मेरा कुची कुची प्यार
13 नंबर वाली बच्ची करने मल्लिका शेरावत आ रही है

Mithilesh dubey said...

हाहाहाहा भईया होली का सबसे ज्यादा मजा आप ही ले रहो हो ।

Kaviraaj said...

बहुत अच्छा । सुन्दर प्रयास है। जारी रखिये ।

अगर आप हिंदी साहित्य की दुर्लभ पुस्तकें जैसे उपन्यास, कहानियां, नाटक मुफ्त डाउनलोड करना चाहते है तो कृपया किताबघर से डाउनलोड करें । इसका पता है:

http://Kitabghar.tk

शरद कोकास said...

क्या यह पैदायशी मूँछ है?

दीपक 'मशाल' said...

ha ha ha... aaj to huddang hoke rahega shama baandh diya aapne..
इस बार रंग लगाना तो.. ऐसा रंग लगाना.. के ताउम्र ना छूटे..
ना हिन्दू पहिचाना जाये ना मुसलमाँ.. ऐसा रंग लगाना..
लहू का रंग तो अन्दर ही रह जाता है.. जब तक पहचाना जाये सड़कों पे बह जाता है..
कोई बाहर का पक्का रंग लगाना..
के बस इंसां पहचाना जाये.. ना हिन्दू पहचाना जाये..
ना मुसलमाँ पहचाना जाये.. बस इंसां पहचाना जाये..
इस बार.. ऐसा रंग लगाना...
(

होली की उतनी शुभ कामनाएं जितनी मैंने और आपने मिलके भी ना बांटी हों...

Vivek Ranjan Shrivastava said...

कहाँ छिपा रखी है
नेह की पिचकारी और प्यार का रंग?
डालना ही है तो डालो
कुछ छींटे ही सही
पर प्यार के प्यार से

सतीश सक्सेना said...

दीपक का कमेंट्स बहुत पसंद आया ! शरारती बच्चियों को होली की बधाई , इस अनूठे ब्लाग के लिए बधाई तनेजा जी !

'अदा' said...

ha ha ha ha
hey bhagwaan...!!

M VERMA said...

मूँछो वाले बच्चे तो देख लिया कल पूँछ वाले तो नहीं दिखा देंगे!!

बी एस पाबला said...

बच्चे, मन के सच्चे

गिरीश पंकज said...

ha...ha...ha...mooछ् vaale bachche...? pahane hue hai n ''kacheछ्''? ek-do bachche chikane bhi hai. shubhkamanaye holi ki...isee tarah jeevant..hansmukh aur [bachche-kachछ्e vaale bane rahe...

डॉ महेश सिन्हा said...

न जाने कल क्या हो :)

ललित शर्मा said...

इससे यह साबित होता है कि हम जन्म से मुछों के साथ पैदा हुए थे।:)

राज भाटिय़ा said...

अरे अरे इतने सारे प्यारे प्यारे बच्चे, बहुत सुंदर जी.

आप ओर आप के परिवार को होली पर्व की हार्दिक शुभकामनाये और बधाई

कविता वाचक्नवी Kavita Vachaknavee said...

होली की शुभकामनाएँ

वन्दना said...

hahahahaha........happy holi.

MUMBAI TIGER मुम्बई टाईगर said...

जब कोई बात बिगड़ जाए
जब कोई मुश्किल पड़ जाए तो
तो होठ घुमा सिटी बजा सिटी बजा के
बोल भैया "आल इज वेल"
हेपी होली .
जीवन में खुशिया लाती है होली
दिल से दिल मिलाती है होली
♥ ♥ ♥ ♥
आभार/ मगल भावनाऐ

महावीर

हे! प्रभु यह तेरापन्थ
मुम्बई-टाईगर

ब्लॉग चर्चा मुन्ना भाई की
द फोटू गैलेरी
महाप्रेम
माई ब्लोग
SELECTION & COLLECTION

अजय कुमार झा said...

अलेले इतनी छुंदल छुंदल बच्चियां और बच्चे ...भाई इन्हें होली में छोटी पिचकारी से होली खिलवाना ...बधई हो
अजय कुमार झा

Shefali Pande said...

holi kee shubhkaamanen...bahut mast chitra hain...

Udan Tashtari said...

बड़े प्यारे प्यारे नन्हे मुन्ने बच्चे हैं. :)


ये रंग भरा त्यौहार, चलो हम होली खेलें
प्रीत की बहे बयार, चलो हम होली खेलें.
पाले जितने द्वेष, चलो उनको बिसरा दें,
गले लगा लो यार, चलो हम होली खेलें.


आप एवं आपके परिवार को होली मुबारक.

-समीर लाल ’समीर’

अनामिका की सदाये...... said...

badeeeeeeee badeeeeeeeeeee pyare munne hai...jara naam to bataaay deo to ham bhi jaan jahi kaun kiska balak hai...

ha.ha.ha.

holi hai.

happy holi

खुशदीप सहगल said...

पहले रुपसियां, फिर पालने में डोलती बच्चियां...

तनेजा भैय्ये इरादा क्या है...माना हमें अपनी उम्र छुपाने की आदत है लेकिन इतनी भी नहीं कि किलकारियां मारने पर आ जाएं...

और ये जो मूंछ चिपकी दिखाई दे रही हैं न ये पीढ़ियों पहले नाटक में काम करने पर फेविकोल से चिपकाई गई थी...सदियां बदल गईं लेकिन मूंछ उखड़ने का नाम ही नहीं ले रही हैं...

आपको, संजू भाभी और बच्चों को रंगोत्सव की बहुत-बहुत बधाई...

जय हिंद...

यशवन्त मेहता "फ़कीरा" said...

uli baba......mucho wale baby....bahut cute cute.....


आपको सपरिवार होली की ढेरो बधाईयाँ और शुभकामनाएँ

Arun Kumar Jha said...

bahut khub, sach men majedar hai. aapke majakia dil aur hansor samvedna ka to main pahle kayal hoon. rajeev bhai badi kripa hoti pyare bachcho ko unki mayon ke godi men bithaye hote. mujhe chinta hai un bachchon ka. unki bhookh kaise mitegi. maa se door rahkar. lalanpalan ki jimmedari to aap sambhal hi lenge. bhagwan aapko barakt de. meri shubhkamnayen.

 
Copyright © 2009. हँसते रहो All Rights Reserved. | Post RSS | Comments RSS | Design maintain by: Shah Nawaz