हे प्रभु!…मुझे वर दे...मुझे वर दे...मुझे वर दे

praying-hands

हे प्रभु... .. 

मुझे वर दे..मुझे वर दे...मुझे वर दे

विनति तुझसे प्रभु है बस इतनी

नहीं पसन्द मुझे दिखावा

तू मुझे शील संयत संतुलित व्यवहार दे

 

नहीं चाहिए ‘जैम’ ‘बर्गर’ औ ‘पिज़्ज़ा’ मुझे

तू मुझे पानीपत का ‘पचरंगा’ अचार दे

नहीं पसंद सिक्कों की खनकार मुझे

तू मुझे हरे नोटों का बस हार दे

 

मुझे धन दे  मुझे मोटर कार दे

नहीं प्यारी ‘सैंत्रो’ ‘आई टैन’ मुझे

तू बस मुझे 'वैगन ऑर' दे

एक नहीं हाँ!.. दो-चार दे

 

बीवी चाहिए नायिका  सी ..नहीं कोई बेकार दे

नहीं पसन्द मुझे ‘करीना’ औ ‘बिपाशा’

‘कैटरीना’ औ ‘दीपिका’ का तू मुझे प्यार दे 

 

हे प्रभु... ..

मुझे वर दे..मुझे वर दे...मुझे वर दे

विनति तुझसे प्रभु है बस इतनी

नहीं पसन्द मुझे दिखावा

तू मुझे शील संयत संतुलित व्यवहार दे

***राजीव तनेजा***

13 comments:

खुशदीप सहगल said...

कैसे कैसे को दिया है,
मुझको भी तू लिफ्ट करा दे,
मेरी अर्जी मान ले मौला...

सारी दुनिया पे छा जाऊं,
बस इतना सा ख्वाब है...

होली की खुमारी में ऊपर वाले पर अच्छी फरमाइशें ठोक डालीं बीड़ू....

जय हिंद...

ललित शर्मा said...

बीवी चाहिए नायिका सी ..नहीं कोई बेकार दे
नहीं पसन्द मुझे ‘करीना’ औ ‘बिपाशा’
‘कैटरीना’ औ ‘दीपिका’ का तू मुझे प्यार दे

पहले ले लो अथारिटी भाभी जी से
फ़िर तुम कहीं भी जाओ यार,
कैटरीना बिपाशा हो चाहे दीपिका
खुब धमा चौकड़ी मचाओ यार

चाँद मोहम्मद ने यही किया था
अब उससे कुछ तो सीखो यार

होली मुबारक

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

होली पर बहुत बहुत शुभकामनाएँ!

Udan Tashtari said...

हा हा!!


और भी तो कुछ मांगो वत्स,,,इतना सा बस!!


:)

अविनाश वाचस्पति said...

@ उड़नतश्‍तरी


राजीव के लिए

राजीव की ओर से

इतना और मांगता हूं गुरु जी

एक पोस्‍ट पर

टिप्‍पणी कई हजार दे

पोस्‍ट पर पसंद के चटके

हर बार दे

काजल कुमार Kajal Kumar said...

प्रभु की तो टें बोल गयी होगी इतनी डिमांड सुन कर

राज भाटिय़ा said...

अजी राखी दिल को हाथो मे लिये साजन ढुढ रही है.... दे आप का पता उसे??? भाभी जी का मंजुरी पत्र साथ मै नथी करे कविता के संग, तभी भगवान सुनेगा
बहुत सुंदर

सतीश सक्सेना said...

शुरु में लगा तनेजा जी खुले ह्रदय भगवान् से कह रहे हैं मुझे कुछ नहीं चाहिए मुझे सिर्फ तुम्हारा प्यार चाहिए , बाद में समझने पर पता चला कि यह तो प्यार के साथ सब कुछ ही मांगे जा रहे हैं !
बहुत बढ़िया तनेजा जी , सही चल रहे हो समय के हिसाब से

शरद कोकास said...

तथास्तु....।

विनोद कुमार पांडेय said...

भगवान हर इच्छा पूरी करेंगे....लिमिटेड चीज़ ही तो चाहिए भला क्यों ना मिलेगा...

HARI SHARMA said...

राखी सावन्त चलेगी क्या
वैसे राहुल महाजन का भी आप्शन खुला ही है
और ये क्या वर दे वर दे लगा रखा है
ये कहो बधू दे बधू दे
नहे तो लोग जाने क्या अर्थ लगा ले.

होली है

महफूज़ अली said...

bahut sahi....... hi hih hihi...

संजय भास्कर said...

बहुत ही सुन्‍दर प्रस्‍तुति ।

 
Copyright © 2009. हँसते रहो All Rights Reserved. | Post RSS | Comments RSS | Design maintain by: Shah Nawaz