अंतिम चक्र-पहला हिन्दी ब्लोगर सम्मलेन बांगलादेश में(6)- राजीव तनेजा

vandana gupta........

अल्ले…अल्ले अंटल जी…ये क्या कल लहे हैं आप?…बांग्लादेश में हिन्दी ब्लोगरों का सम्मलेन होने जा रहा है ना कि कोई क्रिकेट मैच….जाईये!…जाईये अपने घल जा के चौक्के-छक्के मालिये…

ajay jha

girish billore...

 

अल्ले ओ पैलवान अंटल जी…आप क्या कल लहे हैं…आपका बी वहाँ पर कोई काम नहीं है…

 

indu puri

 sanju taneja

  padam singh

अल्ले ओ मिच्छ यूनिवल्स की बच्ची…तेला बी वहाँ पे कोई काम नहीं है…जा..अपने घल जा के गुझिया-पकोडे बना…

y45ey4e5y5

 

अल्ले ओ जमूरी….तू क्या कल लही है यहाँ पे…तेला बी कोई काम नहीं है वहाँ बांगलादेश में…जा अपने घल जा के लड्डू-पेड़े खा

vandana gupta

आय-हाय छम्मक-छल्लो…तू बी वहाँ पे जाएगी क्या?…

kokas 

 

khushdeep

14 comments:

शिवम् मिश्रा said...

वाह वाह ... वाह वाह ... जय हो !!

नुक्‍कड़ said...

रंगों की जंग
ढको जी अंग

ललित शर्मा said...

होली की शुभकामनाएं
फ़ोटो के साथ गुझिया भी खिलाएं
यूँ मुफ़्त में काम न चलाएं
कम से कम एक खंम्भा ही लाएं।

हा हा हा

अन्तर सोहिल said...

हा-हा-हा
होली मुबारक हो
आपका जवाब नही जी

प्रणाम

अजय कुमार झा said...

हा हा हा हा हा अमां राजीव भा आपके खोपडे में कौन टरेन का इंजन लगा है हो ...............एक एक को छौंडी बना दिए हैं आप । जय हो , होली भी है

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

होली में चेहरा हुआ, नीला, पीला-लाल।
श्यामल-गोरे गाल भी, हो गये लालम-लाल।१।

महके-चहके अंग हैं, उलझे-उलझे बाल।
होली के त्यौहार पर, बहकी-बहकी चाल।२।

हुलियारे करतें फिरें, चारों ओर धमाल।
होली के इस दिवस पर, हो न कोई बबाल।३।

कीचड़-कालिख छोड़कर, खेलो रंग-गुलाल।
टेसू से महका हुआ, रंग बसन्ती डाल।४।

--

रंगों के पर्व होली की सभी को बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!

सतीश सक्सेना said...

राजीव भाई ,
सुबह सुबह आका हँसता चेहरा दिखा तो होली हो गयी यार ! संजू भाभी और आप को सपरिवार होली की शुभकामनायें !

अविनाश said...

सारी ब्‍लॉगर सम्‍मेलन की रिपोर्ट मय चित्रों के आज शाम को एनडीटीवी पर हम लोग कार्यक्रम में 8 बजे देखिएगा। भूल जाएं तो जुर्माना देना होगा।

डॉ टी एस दराल said...

हा हा हा ! छांट छांट कर लाये हैं ---।
होली की हार्दिक शुभकामनायें ।

वन्दना said...

आपको होली की हार्दिक शुभकामनायें।

गज़ब कर दिया…………ये है होली का असली धमाल्……………मज़ा आ गया।

Udan Tashtari said...

हा हा!! मजेदारम!!!!!!!!!!!!!!!

GirishMukul said...

cup ke liye thanks

Jitendra Yadav said...

Chha haye yaar

सतीश सक्सेना said...

खुशदीप भाई खूब जंच रहे हैं ...शुभकामनायें !

 
Copyright © 2009. हँसते रहो All Rights Reserved. | Post RSS | Comments RSS | Design maintain by: Shah Nawaz