आधा मोहल्ला ही साफ़ हो जाए(माईक्रो पोस्ट)- राजीव तनेजा

husband_wife_03

पति:डार्लिंग…फटाफट तैयार हो जाओ…फिल्म की टिकट लाया हूँ…

पत्नी(खुश होकर):अरे!…वाह…कौन सी फिल्म है?

पति:सात खून माफ

पत्नी(मुँह बनाते हुए):दिमाग घास चरने चला गया है क्या तुम्हारा?…..मुझे नहीं देखनी ये बकवास फिल्म

पति:अरे!…तुम्हें नहीं पता…बहुत बढ़िया फिल्म है …इसमें प्रियंका चोपड़ा पूरे सात….

पत्नी:पता है…पता है…सब पता है…गिन के पूरे सात खून करती है…

पति:इसलिए तो चलो…चलकर देखते हैं कि  कैसे वो सच्चे प्यार की तलाश में भटकते हुए….

पत्नी:हुँह!…ऐसे अगर सच्चे प्यार की तलाश में खून होते चले जाएँ तो मेरा तो आधा मोहल्ला ही साफ़ हो जाए…

 

images

***राजीव तनेजा***

http://hansteraho.com

rajivtaneja2004@gmail.com

+919810821361

+919213766753

+919136159706

20 comments:

अनूप शुक्ल said...

सही है! कितना ख्याल है मोहल्ले वालों का!

ललित शर्मा said...

आपकी बहुत ही सार्थक पहल
मिल गया समस्या का हल
जनसंख्या कम करने का अचूक नुश्खा
लजीज बिरयानी के साध खुश्का

ललित शर्मा said...

सात खून माफ़
मोहल्ला आधा साफ़
क्या करेगी मुंशीपाल्टी?

निर्मला कपिला said...

सही कहा ललित जी ने जनसंख्या कम करने का अचूक तरीका। शुभकामनायें।

PADMSINGH said...

हा हा हा ... मोहल्ला कौन सा है वो ?

खुशदीप सहगल said...

ये तो मेरे अपने फिल्म की लेडी छेनू हो गई...

ख़ामोश, वरना मोहल्ले का मोहल्ला उड़ा दूंगी....

जय हिंद...

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

वाह!
बहुत बढ़िया!
वार्तालाप मं बी व्यंग्य!

बी एस पाबला said...

हा हा हा

जिज्ञासा स्वभाविक है कि वो मोहल्ला कौन सा है?

बहुत बढ़िया :-)

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

:) :) ...पाबलाजी को बताया जाए मोहल्ला कौन सा है ?

सुशील बाकलीवाल said...

सात खून माफ
आधा मोहल्ला साफ.

बढिया तुकबन्दी हो गई ।

अन्तर सोहिल said...

हा-हा-हा

डॉ टी एस दराल said...

हा हा हा ! माइक्रो पोस्ट के लिए साधुवाद ।

pratibha said...

लंबी-लंबी पोस्ट बढ़ने के बाद माइक्रो पोस्ट पढ़ना बहुत सुखद लगा है।
मोहल्ले का नाम जानने की उत्सुकता तो मुझे भी है।

Udan Tashtari said...

हा हा!! :)

राज भाटिय़ा said...

आधा मोहल्ला ही साफ़ ? फ़िर ते भाजी तुहाडिया मोजा ही मोजा :)

dhiraj said...

muskrate raho gumwap.com me ate raho jindgi me ldkiyo ki tlash me jindgi ko gwate ho,jindgi hai ek ladkiya hai anek kyo paglo ki treh apni jwani gwate ho

anju(anu) choudhary said...

hahahahhahahahaha.......हाय अब की मोहल्ले की बारी आई हैं

महेन्द्र श्रीवास्तव said...

हाहाहाहाहा
बहुत बढिया

काजल कुमार Kajal Kumar said...

इतनी छोटी कथा !!!
ये तो शुरू होने से पहले ही ख़त्म हो गई...

दर्शन कौर धनोय said...

कृप्या ...सब हजरात को उस मोहल्ले का पता बताये हा हा हा हा

 
Copyright © 2009. हँसते रहो All Rights Reserved. | Post RSS | Comments RSS | Design maintain by: Shah Nawaz